ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया से टॉस जीतकर बैटिंग चुनी, नवदीप सैनी और विल पुकोव्स्की का डेब्यू - NewsSect

News, Bollywood, Sports, Share Market, International, Weather, Automobile, Politics

Breaking

Amazon

Thursday, January 7, 2021

ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया से टॉस जीतकर बैटिंग चुनी, नवदीप सैनी और विल पुकोव्स्की का डेब्यू

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 4 टेस्ट की सीरीज का तीसरा मुकाबला सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में खेला जा रहा है। ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग का फैसला किया है। टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन एक दिन पहले ही घोषित कर दी गई। टीम में 2 बदलाव किए गए हैं। मयंक अग्रवाल की जगह टीम में आए उप-कप्तान रोहित टीम शुभमन के साथ ओपनिंग करेंगे।

वहीं, तेज गेंदबाज नवदीप सैनी टेस्ट में डेब्यू करेंगे। उन्हें उमेश यादव की जगह शामिल किया गया है। नवदीप टेस्ट में डेब्यू करने वाले 299वें भारतीय हैं। उन्हें जसप्रीत बुमराह ने डेब्यू कैप दी। रोहित के अलावा टीम में शामिल शुभमन गिल, ऋषभ पंत, नवदीप सैनी पर कोरोना प्रोटोकॉल तोड़ने के आरोपों की जांच चल रही है। इनमें पृथ्वी शॉ भी शामिल थे, लेकिन उन्हें प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिली।

दोनों टीमें:
भारत: अजिंक्य रहाणे (कप्तान), रोहित शर्मा (उप-कप्तान), शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी, ऋषभ पंत, रविंद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन, नवदीप सैनी, जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज।
ऑस्ट्रेलिया: डेविड वॉर्नर, विल पुकोव्स्की, मार्नस लाबुशेन, स्टीव स्मिथ, मैथ्यू वेड, कैमरून ग्रीन, टिम पेन (विकेटकीपर और कप्तान), पैट कमिंस, मिचेल स्टार्क, नाथन लियोन और जोश हेजलवुड।

पिंक कलर में मैच खेल रहीं दोनों टीमें
दोनों टीमें इस टेस्ट में पिंक कलर में नजर आ रही हैं। 2009 से सिडनी में खेला जाने वाला साल का पहला टेस्ट पिंक मैच कहलाता है। यह टेस्ट पिंक बॉल से नहीं, रेड बॉल से ही खेला जाता है। पिंक बॉल का इस्तेमाल सिर्फ डे-नाइट टेस्ट में होता है। हालांकि, पिंक टेस्ट में स्टंप से लेकर खिलाड़ियों के ग्लव्स, बैट ग्रिप, ब्रांड लोगो, होर्डिंग, कैप और दर्शकों का पहनावा सब कुछ पिंक-पिंक ही नजर आता है।

2019 का पिंक टेस्ट भी भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच ही खेला गया था, जो ड्रॉ रहा था। इसमें भारतीय कप्तान विराट कोहली पिंक ग्लव्ज और बैट पर पिंक ग्रिप चढ़ाकर मैदान में उतरे थे। पिछली बार टीम इंडिया ने सिडनी टेस्ट की पहली पारी 7 विकेट पर 622 रन बनाकर घोषित की थी।

क्यों कराया जाता है पिंक टेस्ट
दरअसल, पिंक टेस्ट का नाता ऑस्ट्रेलियाई लीजेंड ग्लेन मैक्ग्रा और उनकी पत्नी जेन से जुड़ा है। टेस्ट मैच के तीसरे दिन को 'जेन मैक्ग्रा डे' के नाम से जाना जाता है। जेन का 2008 में ब्रेस्ट कैंसर की वजह से निधन हुआ था। इसके बाद ब्रेस्ट कैंसर के प्रति लोगों में जागरूकता के लिए सिडनी में पिंक टेस्ट कराया जाने लगा। यह ग्लेन मैक्ग्रा का होम ग्राउंड है।

मैच में होने वाला फायदा मैक्ग्रा फाउंडेशन को मिलता है
इस मैच से जो भी फायदा होता है, वह पूरा मैक्ग्रा फाउंडेशन को दान कर दिया जाता है। 2005 में ग्लैन और उनकी पत्नी जेन ने फाउंडेशन की स्थापना की थी, लेकिन इसके 3 साल बाद जेन का निधन हो गया। इस जागरूकता अभियान को सपोर्ट करने के लिए फैंस गुलाबी रंग के कपड़े पहनते हैं। मैक्ग्रा फाउंडेशन एक चैरिटी संस्था है, जो ब्रेस्ट कैंसर के मरीजों की सहायता करती है।

4 टेस्ट की सीरीज 1-1 से बराबरी पर
टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच 4 टेस्ट की सीरीज 1-1 से बराबरी पर है। सिडनी मैच के बाद दोनों टीम के बीच सीरीज का आखिरी टेस्ट ब्रिस्बेन में 15 जनवरी को खेला जाएगा। सीरीज का पहला मैच एडिलेड में डे-नाइट खेला गया था, जो ऑस्ट्रेलिया ने 8 विकेट से जीता था। इसके बाद मेलबर्न में खेला गया बॉक्सिंग-डे टेस्ट भारत ने 8 विकेट से अपने नाम किया था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
टॉस के दौरान ऑस्ट्रेलियाई कैप्टन टिम पेन और भारतीय टीम के कप्तान अजिंक्य रहाणे।


दैनिक भास्कर,,1733

No comments:

Post a Comment

Pages