ऑस्ट्रेलिया की क्लेयर पोलोसक ने रचा इतिहास, भारत के खिलाफ सिडनी टेस्ट में फोर्थ अंपायर नियुक्त - NewsSect

News, Bollywood, Sports, Share Market, International, Weather, Automobile, Politics

Breaking

Thursday, January 7, 2021

ऑस्ट्रेलिया की क्लेयर पोलोसक ने रचा इतिहास, भारत के खिलाफ सिडनी टेस्ट में फोर्थ अंपायर नियुक्त

ऑस्ट्रेलिया की क्लेयर पोलोसक पुरुष टेस्ट में ऑफिशियल बनने वाली पहली महिला बन गई है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच गुरुवार से सिडनी में शुरु हुई तीसरे टेस्ट मैच के लिए फोर्थ अंपायर नियुक्त किया गया है।वे पुरुष वनडे में अंपायरिंग करने वाली पहली महिला भी हैं।

उन्होंने 2019 में ICC की डिविजन-2 लीग में नामीबिया और ओमान के बीच खेले गए वनडे में अंपायरिंग की थी।पोलोसक को पॉल राफेल, पॉल विल्सन , ब्रॉक्स ऑक्सनफोर्ड और डेविड बून के साथ सिडनी में ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच हो रहे तीसरे टेस्ट के लिए ऑफिशियल्स की टीम में शामिल किया गया है।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने की है नियुक्ति

राफेल और विल्सन फील्ड अंपायर है। जबकि ब्रॉक्स ऑक्सनफोर्ड तीसरे अंपायर हैं ओर डेविड बून मैच रेफरी हैं। वहीं पोलोसक फोर्थ अंपायर हैं। ICC नियमों के अनुसार चौथे अंपायर को मेजबान क्रिकेट बोर्ड की ओर से अपने ICCअंतरराष्ट्रीय पैनल से नियुक्त कर सकता है।

वुमेन वर्ल्ड कप में भी कर चुकी हैं अंपायरिंग
पोलोसक का अंतरराष्ट्रीय अंपायरिंग करियर 2015 से शुरु हुआ है। थाईलैंड में ICC वुमेन टी-20 वर्ल्ड कप के लिए हुए क्वॉलिफाइंग टूर्नामेंट में भी वह अंपायरिंग कर चुकी है। उन्होंने वनडे में अंपायरिंग डेब्यू 2017 में नवंबर में वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया वुमेन टीम के बीच कैनबेरा में हुए वनडे मैच से की है। 2017 में यूके में हुई वुमेन वनडे वर्ल्ड कप में भी उन्हें अंपायर नियुक्त किया गया था।

अब तक 33 टी-20 और 17 वनडे मैचों में कर चुकी हैं अंपायरिंग वे 2018 में वेस्ट इंडीज में हुए टी-20 वर्ल्ड कप के दौरान भी अंपायरिंग कर चुकी हैं। वे अब तक 17 वुमेन वनडे मैच में फील्ड अंपायरिंग और 3 मैचों में थर्ड अंपायरिंग कर चुकी हैं। इनके अलावा 33 वुमेन टी-20 मैचों में भी फील्ड अंपायरिंग और 5 मैचों में थर्ड अंपायर की भूमिका निभा चुकी हैं।
पोलोसक ICC डवलपमेंट पैनल में 2018 और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सप्लीमेंट्री अंपायर पैनल में 2014-15 से शामिल हैं। वहीं बिग बैश में 13 बार थर्ड अंपायर की भूमिका निभा चुकी है।

चौथे अंपायर की भूमिका
चौथे अंपायर का काम मैच के दौरान ग्राउंड पर नई गेंद लेकर जाना और फील्ड अंपायरों के लिए ड्रिंक ले जाना और लंच और चाय के दौरान पिच की देखभाल और लाईमीटर से रोशनी की जांच करना शामिल हैं। वहीं अगर फील्ड अंपायर में से कोई किसी विशेष परिस्थिति में बाहर हो जाता है और थर्ड अंपायर फील्ड अंपायर की भूमिका निभाते हैं, तो उस समय फोर्थ अंपायर थर्ड अंपायर का काम देखते हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
ऑस्ट्रेलिया की क्लेयर पोलोसक पुरुष टेस्ट में ऑफिसियल बनने वाली पहली महिला बन गई है।


दैनिक भास्कर,,1733

No comments:

Post a Comment

Pages