पूर्व भारतीय स्पिनर ने DDCA की सदस्यता छोड़ी, कोटला स्टैंड से अपना नाम हटाने को कहा - NewsSect

News, Bollywood, Sports, Share Market, International, Weather, Automobile, Politics

Breaking

Amazon

Wednesday, December 23, 2020

पूर्व भारतीय स्पिनर ने DDCA की सदस्यता छोड़ी, कोटला स्टैंड से अपना नाम हटाने को कहा

भारत के पूर्व स्पिनर बिशन सिंह बेदी ने फिरोजशाह कोटला (अरुण जेटली स्टेडियम) में दिल्ली डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) के पूर्व अध्यक्ष अरुण जेटली की प्रतिमा लगाए जाने पर नाराजगी जाहिर की है। बेदी ने अरुण जेटली के पुत्र और वर्तमान DDCA अध्यक्ष रोहन जेटली को पत्र लिखकर अपने नाम की स्टैंड को हटाने की मांग की। साथ ही DDCA की सदस्यता से भी त्यागपत्र देने की भी घोषणा की। साल 2017 में कोटला का एक स्टैंड का नाम बेदी के सम्मान में बिशन सिंह बेदी स्टैंड कर दिया गया था।

14 साल तक DDCA अध्यक्ष रहे अरुण जेटली

जेटली का कुछ साल पहले बीमारी की वजह से देहांत हो गया था। वे भाजपा के नेता थे और केंद्रीय मंत्री भी रहे थे। उनकी मृत्यु के बाद पिछले साल स्टेडियम नाम बदलकर उनके सम्मान में अरुण जेटली स्टेडियम कर दिया गया था। साथ ही स्टेडियम में जेटली की एक 6 फुट ऊंची प्रतिमा लगाने का फैसला किया। जेटली 1999 से 2013 के बीच 14 साल तक DDCA के अध्यक्ष रहे थे। कुछ महीने पहले पत्रकार रजत शर्मा के DDCA अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद अरुण जेटली के बेटे रोहन जेटली को निर्विरोध अध्यक्ष चुना गया था।

DDCA में जो चल रहा उससे डरा हुआ हूं

बेदी ने पत्र में लिखा है,'मैं धैर्यवान और सहनशील व्यक्ति हूं। मुझे इस पर गर्व है। लेकिन DDCA अभी जो कुछ चल रहा है, उससे मैं डरा हूं और मैं मजबूर होकर ये कदम उठा रहा हूं। इसलिए आपसे निवेदन है कि मेरे नाम के स्टैंड को तत्काल प्रभाव से हटा दिया जाए और मेरी सदस्यता समाप्त कर दी जाए।'

काफी सोच समझकर लिया फैसला

बेदी ने लिखा, 'मैने यह फैसला काफी सोच समझकर लिया है। मुझे ऐसा नहीं लग रहा है कि मुझे दिए गए सम्मान की अवहेलना की जा रही है। लेकिन सम्मान के साथ दायित्व भी बढ़ जाती है। मैं उनके प्रति आभारी हूं कि जिन्होंने मुझे खेलने के दौरान सम्मान दिया। अब मैं यह सम्मान वापस कर रहा हूं, क्योंकि मैं उन लोगों को बताना चाहता हूं कि रिटायरमेंट के चार दशक बाद भी मेरे अंदर वैल्यू बचे हुए हैं।

अरुण जेटली अच्छे राजनीतिज्ञ

बेदी ने कहा कि जब फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नाम बदल कर अरुण जेटली के नाम पर किया गया तो मुझे लगा कि अब कुछ अच्छा होगा। लेकिन मैं गलत था।। मैं यह नहीं समझ पा रहा हूं कि कोटला में उनकी प्रतिमा क्यों लगाई जा रही है। वे अच्छे राजनीतिज्ञ थे। वे ऐसे में संसद में उनको याद करने की जरूरत है। मेरा आंकलन है कि वे एक अच्छे क्रिकेट प्रशंसक हो सकते हैं। लेकिन अच्छे प्रशासक के रूप में उनका कार्यकाल संदेहात्मक है।
टेस्ट में ले चुके हैं 266 विकेट

बेदी ने भारत के लिए 67 टेस्ट और 10 वनडे मैच खेले। 67 टेस्ट मैचों में बेदी ने 266 विकेट और 10 वनडे में 7 विकेट लिए थे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
बिशन सिंह बेदी इंडिया के लिए 67 टेस्ट मैचों में 266 विकेट ले चुके हैं।


दैनिक भास्कर,,1733

No comments:

Post a Comment

Pages