अधिकतर एसोसिएशन सिर्फ टी20 और वनडे के आयोजन के पक्ष में, फर्स्ट क्लास टूर्नामेंट पहली बार टल भी सकता है - NewsSect

News, Bollywood, Sports, Share Market, International, Weather, Automobile, Politics

Breaking

Tuesday, December 15, 2020

अधिकतर एसोसिएशन सिर्फ टी20 और वनडे के आयोजन के पक्ष में, फर्स्ट क्लास टूर्नामेंट पहली बार टल भी सकता है

कोविड-19 के बीच आखिरकार बीसीसीआई घरेलू टूर्नामेंट शुरू करने जा रहा है। 10 जनवरी से टी20 मुश्ताक अली ट्रॉफी होगी। पिछले महीने सचिव जय शाह ने सभी 38 एसोसिएशन को पत्र लिखकर घरेलू टूर्नामेंट के आयोजन को लेकर विकल्प मांगे थे। अधिकतर एसोसिएशन सिर्फ टी20 और वनडे टूर्नामेंट के आयोजन के पक्ष में थे। किसी ने भी महिला क्रिकेट और जूनियर क्रिकेट को लेकर चर्चा तक नहीं की। लेकिन मौजूदा सीजन में रणजी ट्रॉफी पर सबसे ज्यादा खतरा है। 1934 से खेला जा रहा यह फर्स्ट क्लास टूर्नामेंट पहली बार स्थगित हो सकता है। स्टेट एसोसिएशन भी इसे लेकर उत्सुक नहीं हैं।

हरियाणा, हिमाचल और उप्र जैसे राज्य सिर्फ मुश्ताक अली ट्रॉफी के पक्ष में हैं। वहीं मुंबई, सौराष्ट्र और तमिलनाडु जैसे राज्य टी20 से शुरुआत चाहते हैं और अगर संभव हुआ तो रणजी भी कराने के पक्ष में हैं। सिर्फ कर्नाटक ही तीनों टूर्नामेंट कराने के पक्ष में है, लेकिन आईपीएल की तारीखों से इसका टकराव होगा। कर्नाटक एसोसिएशन ने कहा, ‘बोर्ड पहले टी20, फिर रणजी और इसके बाद विजय हजारे वनडे ट्रॉफी कराए। महिला और पुरुष कैटेगरी के अलावा जूनियर ग्रुप के भी सभी इवेंट कराए जाएं।’

पूर्व विकेटकीपर किरण मोरे ने क्या कहा

किरण मोरे ने कहा- लोकल क्रिकेटरों के लिए खेल की वापसी जरूरी है। यह उनके लिए फाइनेंशियल तौर पर आवश्यक है, क्योंकि वे इससे प्रभावित हुए हैं। मुश्ताक अली से इवेंट की शुरुआत होगी। क्रिकेटर्स आर्थिक रूप बहुत प्रभावित हुए हंै। इंग्लैंड के भारत दौरे से पहले खिलाड़ियों के पास अपने कौशल को दिखाने का यह अच्छा मौका होगा। यह सीरीज बेहद महत्वपूर्ण है।

गाेवा के मुख्य कोच ने क्या कहा

गोवा के मुख्य कोच डोड गणेश ने कहा- घरेलू क्रिकेट में फैंस नहीं आते। यहां केवल बायो-बबल देखना होगा। हमें सिर्फ सोशल डिस्टेंसिंग और एसओपी का पालन करना होगा। 38 टीम के हर खिलाड़ी को नियमों को सख्ती से पालन करना चाहिए। यदि हम मुश्ताक अली ट्राॅफी का आयोजन सही से करते हैं तो तीनों फॉर्मेट के इवेंट हो सकते हैं। हमें बोर्ड और स्टेट एसोसिएशन का पूरी तरह से समर्थन करना चाहिए।

क्रिकेटर जलज सक्सेना ने कहा- सभी को सपोर्ट करना चाहिए

क्रिकेटर जलज सक्सेना ने कहा- मुझे लगता है कि मैं भाग्यशाली हूं क्योंकि मेरे पास एक सरकारी नौकरी है। कई खिलाड़ियों के पास नौकरी नहीं है या आय का कोई सोर्स नहीं है। उस स्थिति में यह बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है। बीसीसीआई पूरा सीजन कराने की कोशिश कर रहा है। इस कठिन समय में क्रिकेटरों के लिए कुछ भी हासिल करना महत्वपूर्ण है। सभी को मिलकर इसका सपोर्ट करना चाहिए।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
2019 में टी-20मुश्ताक अली ट्रॉफी पर दिल्ली ने कब्जा जमाया था। (फाइल)


दैनिक भास्कर,,1733

No comments:

Post a Comment

Pages