ऑस्ट्रेलिया में 12 साल से सीरीज नहीं हारी टीम इंडिया, 4 साल पहले 3-0 से क्लीन स्वीप किया था - NewsSect

News, Bollywood, Sports, Share Market, International, Weather, Automobile, Politics

Breaking

Amazon

Thursday, December 3, 2020

ऑस्ट्रेलिया में 12 साल से सीरीज नहीं हारी टीम इंडिया, 4 साल पहले 3-0 से क्लीन स्वीप किया था

वनडे सीरीज गंवाने के बाद अब टी-20 में टीम इंडिया का सामने ऑस्ट्रेलियाई चुनौती होगी। दोनों टीमों के बीच 4 दिसंबर से 3 मैच की सीरीज खेली जाएगी। पहला मुकाबला शुक्रवार को कैनबरा में खेला जाएगा। टी-20 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत का रिकॉर्ड शानदार है। पिछले 12 साल से भारत वहां कोई सीरीज नहीं हारा है। इससे पहले फरवरी 2008 में भारत को यहां हार का सामना करना पड़ा था।

पिछली बार 2018 में जब भारत ने ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया था, तब सीरीज 1-1 से बराबर रही थी। वहीं, 4 साल पहले भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 3-0 से क्लीन स्वीप किया था। तब टीम की कमान महेंद्र सिंह धोनी के हाथों में थी।

टी-20 सीरीज में भारत का पलड़ा भारी
दोनों देशों के बीच अब तक कुल 8 टी-20 सीरीज खेली गईं हैं। इसमें भारत को 3 और ऑस्ट्रेलिया को 2 में जीत मिली हैं, जबकि 3 सीरीज ड्रॉ रही हैं। ओवरऑल मैचों की बात करें, तो दोनों ने ऑस्ट्रेलिया में हुई द्विपक्षीय सीरीज में एक-दूसरे के खिलाफ कुल 9 मैच खेले हैं। इसमें भारत ने 5 और ऑस्ट्रेलिया को सिर्फ 3 में ही जीत मिली है, जबकि एक मैच बेनतीजा रहा है।

कोहली पर रहेगा दारोमदार
वनडे सीरीज में 2 फिफ्टी लगाने वाले भारतीय कप्तान विराट कोहली पर टी-20 सीरीज में भी भारतीय बल्लेबाजी का दारोमदार रहेगा। कोहली ने इस फॉर्मेट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सबसे ज्यादा औसत से रन बनाए हैं। कोहली ने कंगारू टीम के खिलाफ 16 मैचों में 64.88 की औसत से 584 रन बनाए हैं। इसके बाद युवराज सिंह, एमएस धोनी, शिखर धवन और रोहित शर्मा का नंबर आता है।

धवन, राहुल और पंड्या पर रहेगी नजर
IPL में शानदार फॉर्म में रहे लोकेश राहुल और धवन से टीम इंडिया को काफी उम्मीदें रहेंगी। लीग में राहुल ने सबसे ज्यादा 670 और धवन ने 618 रन बनाए थे। वनडे सीरीज में भी राहुल और धवन ने एक-एक फिफ्टी लगाई थीं। इसके अलावा हार्दिक पंड्या की वापसी से टीम मजबूत होगी। पंड्या ने पहले वनडे में 90 और आखिरी वनडे में नाबाद 92 रन की पारी खेली थी। पंड्या ने दूसरे वनडे में बॉलिंग करते हुए एक विकेट भी लिया था।

बुमराह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सबसे सफल गेंदबाज
भारत के लिए टी-20 में जसप्रीत बुमराह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सबसे सफल गेंदबाज रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही डेब्यू करने वाले बुमराह ने इस टीम के खिलाफ 11 मैचों में 15 विकेट लिए हैं। इसके बाद रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार और कुलदीप यादव का नंबर आता है।

बॉलर्स का फॉर्म में आना जरूरी
वनडे सीरीज में टीम इंडिया के बॉलर्स की प्रदर्शन निराशाजनक रहा। तीसरे वनडे को छोड़ दें, तो भारतीय बॉलर्स शुरुआती दोनों मुकाबलों के पावर-प्ले में एक भी विकेट नहीं ले सके हैं। तीसरे मैच में टी नटराजन, शार्दूल ठाकुर और कुलदीप यादव ने जरूर भारत की उम्मीदें जगाईं हैं।

टी-20 सीरीज में भारतीय टीम के लिए 4 चुनौतियां

  • वनडे की तरह टी-20 टीम में भी रोहित शर्मा भारतीय टीम का हिस्सा नहीं हैं। ऐसे में टीम इंडिया को थोड़ा स्ट्रगल करना पड़ सकता है।
  • वनडे में शानदार फॉर्म में रहे कप्तान एरॉन फिंच, स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर से भारतीय गेंदबाजों को पार पाना होगा।
  • ग्लेन मैक्सवेल फॉर्म में वापसी कर चुके हैं। ऐसे में टी-20 में भारत को जल्द से जल्द उन्हें आउट करना होगा।
  • भारतीय बॉलर्स को अपनी लय में आना होगा, क्योंकि वनडे सीरीज खासकर पावरप्ले में उन्हें विकेटों के लिए जूझना पड़ा था।

वर्ल्ड रैंकिंग में ऑस्टेलिया दूसरे और भारत तीसरे स्थान पर
ICC टी-20 रैंकिंग में ऑस्ट्रेलिया 275 रेटिंग के साथ दूसरे और भारत 266 रेटिंग के साथ तीसरे स्थान पर है। ऐसे में यह 3 मैचों की टी-20 सीरीज दोनों टीमों के लिए बहुत अहम है। ऑस्ट्रेलिया के पास इसे जीतकर फिर से रैंकिंग में नंबर-1 होने का मौका होगा, जबकि भारत अपनी पोजिशन में सुधार करना चाहेगा।

16 सदस्यीय भारतीय टीम में 7 बल्लेबाज और 3 ऑलराउंडर
टी-20 में टीम इंडिया के पास कप्तान कोहली समेत 7 बल्लेबाज हैं। इनमें लोकेश राहुल और संजू सैमसन दो विकेटकीपर भी शामिल हैं। 16 सदस्यीय टीम में हार्दिक पंड्या, रविंद्र जडेजा और वॉशिंगटन सुंदर 2 ऑलराउंडर हैं। स्पिनर्स में युजवेंद्र चहल जिम्मेदारी संभालेंगे। तेज गेंदबाजी की बागडोर जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी और टी नटराजन के कंधों पर रहेगी। चोट से उभरे हार्दिक की गेंदबाजी पर सस्पेंस बना हुआ है।

भारतीय टीम

  • बैट्समैन: विराट कोहली (कप्तान), लोकेश राहुल (विकेटकीपर), मयंक अग्रवाल, शिखर धवन, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, संजू सैमसन (विकेटकीपर)।
  • बॉलर: जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्र चहल, दीपक चाहर, मोहम्मद शमी, टी नटराजन, नवदीप सैनी।
  • ऑलराउंडर: रविंद्र जडेजा, हार्दिक पंड्या, वॉशिंगटन सुंदर।

ऑस्ट्रेलियाई टीम

  • बैट्समैन: एरॉन फिंच (कप्तान), एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), मार्नस लाबुशाने, स्टीव स्मिथ, मैथ्यू वेड (विकेटकीपर), एडम जम्पा, डी'आर्की शॉर्ट।
  • बॉलर: पैट कमिंस, शीन एबॉट, एश्टन एगर, जोश हेजलवुड, मिशेल स्टार्क, एंड्रयू टाई।
  • ऑलराउंडर: कैमरून ग्रीन, मोइसेस हेनरिक्स, ग्लेन मैक्सवेल, डेनिल सैम्स, मार्कस स्टोइनिस।


No comments:

Post a Comment

Pages